तू सच है

EDITOR: Gyan Akarsh

तेरे इर्दगिर्द घूमती मेरी कहानी, तुझसे मुझे कुछ जोड़ती सी है, मेरा ज़िक्र तुझमें करती सी है। मेरा साया दिखता है तुझमें, तू सच है, या आईना है?

आस

EDITOR: Aditya Prakash Singh

एक दिन आएगा, जब हम मिलेंगें, जब तुम दिखोगी।

विनय

The Editing Startup

हम सभी जानते हैं कि गुस्सा किसी भी चीज़ का हल नहीं है। आज जब हर तरफ लोगों में आक्रोश भरा पड़ा है, ऐसे में विनय की कहानी जानना बहुत ज़रूरी है, जो पता नहीं कैसे, हर वक्त शांत रहता है।